लखनऊ। उत्‍तर प्रदेश में सियासी घमासान जारी है और इस बीच मुलायम सिंह के साथ शिवपाल यादव दिल्‍ली के लिए रवाना हुए हैं। इससे पहले यह दोनों रविवार सुबह पार्टी दफ्तर पहुंचे जहां कुछ देर रुकने के बाद दिल्‍ली के लिए रवाना हुए। इस दौरान मुलायम सिंह ने समर्थकों से चुनाव के लिए तैयार रहने को कहा। साथ ही पार्टी में झगड़े पर बोले कि विवाद है ही नहीं तो समझौता कैसा।

अखिलेश यादव द्वारा पिता मुलायम को पार्टी अध्‍यक्ष पद से हटाने के बाद पहली बार नेताजी पार्टी दफ्तर पहुंचे थे। कहा जा रहा है कि दिल्‍ली जाकर मुलायम सिंह यादव चुनाव अयोग से मिलकर साइकिल पर दावा ठोकेंगे। वहीं इससे पहले रामगोपाल यादव ने आयोग में जाकर अखिलेश यादव का पक्ष रखते हुए कहा था कि उनके साथ 205 विधायक और 56 एमएलसी खड़े हैं। इसके अलावा 15 सांसदों का साथ भी उन्‍हें मिला हुआ है।

सूत्रों का दावा है कि सपा में अखिलेश और मुलायम अध्‍यक्ष की कुर्सी के लिए अड़े हुए हैं और ऐसे में पार्टी में टूट तय है। कहा जा रहा है कि आज इस पूरे झगड़े को लेकर कोई बड़ा ऐलान संभव है। हालांकि पिता-पुत्र को एक करने के लिए आजम खान जी तोड़ मेहनत कर रहे हैं लेकिन अब तक उन्‍हें सफलता हाथ नहीं लगी है। माना जा रहा है कि आजम की यह भागदौड़ बेकार जाने वाली है।

पार्टी में विवाद नहीं तो समझौता कैसा: मुलायम

| उत्तर प्रदेश, लखनऊ | 0 Comments
About The Author
-