10_10_2016-rajnath

लखनऊ । गृहमंत्री राजनाथ सिंह का कहना है कि पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी से लेकर वर्तमान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तक की कोशिशों के बावजूद पाकिस्तान नहीं सुधरा। अंतत: हमने बता दिया कि हमारी सरकार कलेजे वाली है। यहां राजाजीपुरम् में लखनऊ पश्चिम विधानसभा क्षेत्र के मंडल-3 के कार्यकर्ता सम्मेलन में राजनाथ ने कहा कि अटलजी कहा करते थे कि दोस्त बदल जाता है, पड़ोसी नहीं। पाकिस्तान से रिश्ते सुधारने में उन्होंने पूरी ताकत लगा दी, किंतु बदले में कारगिल मिला।

प्रधानमंत्री मोदी ने तो शपथ ग्र्रहण से पहले शुरुआत कर स्वयं पाकिस्तान तक गए। उसके बदले हमारे जवानों पर कायराना हमला हुआ। अब हमने साबित कर दिया कि हमारी सरकार कमजोर नहीं, कलेजे वाली है। हम पहली गोली नहीं चलाएंगे, किंतु उधर से चलेगी तो देश के मान-सम्मान पर आंच नहीं आने देंगे। भारत माता का मस्तक कतई नहीं झुकने देंगे।

केंद्र सरकार की उपलब्धियां गिनाते हुए राजनाथ ने कहा कि भारत की सकल घरेलू आय (जीडीपी) पांच फीसद से बढ़कर 7.9 फीसद हो गयी है। वाजपेयी सरकार में जीडीपी 8.4 फीसद पहुंच गयी थी। जीएसटी लागू होने के बाद जीडीपी दो अंकों में पहुंचेगी। दुनिया भर में भारत सबसे तेजी से आगे बढऩे वाली अर्थव्यवस्था व निवेश के लिए सर्वाधिक उपयुक्त स्थान के रूप में उभरा है।

गृहमंत्री ने कहा कि केंद्र में भाजपा सरकार बनने के बाद ‘होलसेल भ्रष्टाचार खत्म हुआ है। पिछली सरकारों में केंद्रीय मंत्री तक को जेल जाना पड़ा था, इस बार ढाई साल में केंद्र सरकार पर भ्रष्टाचार का एक भी आरोप नहीं लगा है। केंद्र ने 1100 से ज्यादा पुराने कानून समाप्त किये और समूह ग व घ की नौकरियों में साक्षात्कार व्यवस्था खत्म की। डायरेक्ट बेनीफिट ट्रांसफर से जनता के खाते में सीधे 61,000 करोड़ रुपये पहुंचे, वहीं सरकार के भी तीन हजार करोड़ रुपये बचे। 2022 तक देश में सबको आवास का लक्ष्य है।

राजनाथ ने कहा कि कथनी-करनी में अंतर के कारण ही नेताओं के प्रति विश्वास का संकट पैदा हो गया है। नेताओं ने जितने वादे किये थे, वे पूरे किये होते तो आजादी के तीस साल बाद ही भारत विश्व का सबसे समृद्ध देश बन गया होता। कहा कि इसीलिए उन्होंने चुनाव के समय कोई वादा नहीं किया था। जनप्रतिनिधियों के काम करने की एक सीमा होती है। पांच करोड़ रुपये की सांसद निधि पर्याप्त नहीं होती है। तमाम पीएसयू व अन्य संस्थाओं के कॉरपोरेट सोशल रिस्पांसिबिलिटी फंड से धन लेकर तीन गुना तक लखनऊ में खर्च हो चुका है। राजधानी में ङ्क्षरग रोड के लिए 29 किलोमीटर क्षेत्र की जमीन का अधिग्र्रहण हो चुका है। जल्द ही काम शुरू हो जाएगा। तीन साल पूरा होने पर वे अपने कामकाज की बुकलेट भी निकालेंगे।

 

पाकिस्तान को बता दिया, हमारी सरकार कलेजे वाली : राजनाथ

| उत्तर प्रदेश, लखनऊ | 0 Comments
About The Author
-