रेलवे में यात्रियों को अब तय समय पर सुविधाओं की गारंटी मिलेगी। इसके तहत उन्हें पांच मिनट में जनरल और 30 मिनट में आरक्षित टिकट मिल जाएगा। इसी तरह पार्सल की बुकिंग भी पांच मिनट और डिलीवरी 10 मिनट में होगी। रेलवे ने यात्रियों से जुड़ी अन्य सुविधाओं की समय सीमा तय कर दी है।

हर जोनल रेलवे को निर्देश दिया गया है, वह अपना कंज्यूमर सर्विस चार्टर तैयार करे और उसे जोन के हर स्टेशनों पर डिस्प्ले कराएं। इनमें प्रत्येक सुविधाओं के सामने जिम्मेदार अधिकारी का फोन नंबर जरूर लिखा हो।

रेलवे बोर्ड के चेयरमैन एके मित्तल के मुताबिक, रेल मंत्रालय ने यह निर्देश यात्रियों द्वारा समय पर सुविधाएं न मिलने की बढ़ती शिकायतों को देखते हुए उठाया है। इसमें सबसे ज्यादा शिकायत जनरल टिकटों को लेकर मिल रही थी। हमारा प्रयास है कि यात्रियों को सारी सुविधाएं तय समय सीमा में दी जाए।

देश के तमाम शहरों में लागू सिटीजन चार्टर की तर्ज पर रेलवे ने इस सेवा को शुरू करने का फैसला लिया है। दस सेवाएं होंगी दायरे में यात्रियों से जुड़ी जिन सुविधाओं को तय समयसीमा में देने की तैयारी है, उनमें यात्रियों को टिकट, पार्सल, कोच या ट्रेन बुकिंग, रिफंड, मालभाड़ा सेवा, नई निजी साइडिंग खोलने, सर्टिफिकेशन वर्क और कमर्शियल प्लॉट अलाटमेंट, सफाई से जुड़ी शिकायतों का निराकरण, शिकायत, सामान की चोरी आदि है।

निर्भया फंड से लगेंगे कैमरे, एक हजार स्टेशन चिन्हित

बोर्ड के चेयरमैन एके मित्तल ने बताया कि देश के एक हजार रेलवे स्टेशनों पर यात्रियों की सुरक्षा के लिए सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएंगे। इस पर 500 करोड़ रुपए खर्च होंगे। यह राशि मंत्रालय को निर्भया फंड से मिलेगी। वित्त मंत्रालय ने जिसकी स्वीकृत दे दी है।

इन स्टेशनों के कवर हो जाने से ट्रेनों में सफर करने वाले 80 फीसदी यात्री कवर हो जाएंगे। मान जाएंगे रेलकर्मी, नहीं करेंगे हड़ताल सातवें वेतन आयोग को लेकर 11 जुलाई से हड़ताल की चेतावनी दे चुके रेलकर्मियों से रेल मंत्रालय ने बातचीत शुरू कर दी है। रेल राज्यमंत्री मनोज सिन्हा और चेयरमैन एके मित्तल दोनों ने कहा है कि दोनों अधिकृत यूनियनों के प्रतिनिधियों के साथ बातचीत चल रही है। उम्मीद है कि वे हड़ताल के फैसले को वापस ले लेंगे।

पांच मिनट में जनरल, 30 मिनट में मिलेगा रिजर्व टिकट

| उत्तर प्रदेश | 0 Comments
About The Author
-