एसोचैन में बड़ी मुद्राओं के नोट बंद करने के फैसले पर शोध किया है। संस्‍था ने कहा है कि नोटबंदी से भले ही नकदी में मौजूद काला धन समाप्‍त हो गए मगर इससे गलत तरीके से कमाई गई संपत्ति जैसे सोना और रियल एस्‍टेट पर ज्यादा असर नहीं होगा। नोटों को बंद करने से भी भविष्‍य में बेनामी संपत्ति न पैदा होने पर रोक नहीं लग पाएगी।

ज्‍यादातर खर्च बेनामी संपत्ति में होता है, जो लोगों के हाथ में जाने पर फिर वैध आय हो जाता है। रियल एस्‍टेट और कमोडिटी बाजार में बेनामी डील्‍स के चलते असली खरीदार या बेचने वाली को ढूंढ पाना मुश्किल हो जाता है।

एसोचैम ने कहा कि अघोषित आय और संपत्ति की समस्‍या की जड़ पर चोट करनी चाहिए। सरकार को मार्केट वैल्‍यु के बीच अंतर को कम करना चाहिए ताकि बेनामी लेन-देन की जगह कम हो।

नोटबंदी से नहीं रुकेगा काला धन

| उत्तर प्रदेश | 0 Comments
About The Author
-