jawahr-lal-nehru-and-narendra-modi_1463136250 (1)

आईएस अधिकारी और मध्य प्रदेश बडवानी के जिलाधिकारी को नेहरू-गांधी की तारीफ करना भारी पड़ सकता है। इंडियन एक्सप्रेस की एक खबर के मुताबिक बडवानी के जिलाधिकारी अजय गंगवार ने अपने फेसबुक में लिखा है कि ‘जरा गलतियां बता दीजिये जो नेहरू को नहीं करनी चाहिए थीं, तो अच्छा होता।

यदि उन्होंने आप को 1947 में हिन्दू तालिबानी राष्ट्र बनने से रोका तो यह उनकी गलती थी। उन्होंने कहा कि आईआईटी, इसरो, आईआईएसबी, बराक, आईआईएम, भेल, स्टील प्लांट, थर्मल पॉवर लाए यह उनकी गलती थी। ‘उन्होंने देश में गोशाला और मंदिर की जगह यूनिवर्सिटी खोली, यह भी बड़ी गलती थी।’

यही नहीं अजय गंगवार ने योग गुरू बाबा रामदेव पर भी निशाना साधते हुए लिखा कि ‘आसाराम और रामदेव जैसे बुद्घिजीवी की जगह साराभाई, होमी जहांगीर को सम्म्मान और काम करने का मौका दिया, यह उनकी गलती थी।’

उन्होंने देश में गोशाला और मंदिर की जगह यूनिवर्सिटी खोली, यह भी घोर गलती थी। उन्होंने आप को अंधविश्वासी की जगह एक वैज्ञानिक रास्ता दिखाया यह गांधी परिवार की गलती थी।इन सभी गलतियों के लिए गांधी परिवार को देश से माफी मांगना तो बनता है।’

आईएस अधिकारी पोस्ट सोशल मीडिया पर वायरल
जिलाधिकारी की पोस्ट सोशल मीडिया पर वायरल हो गई। उनकी पोस्ट को सोशल मैसेजिंग ग्रुप और व्हट्सएप पर तेजी से शेयर किया जाने लगा और देखते ही देखते अजय गंगवार की पोस्ट वायरल हो गई।

यहां तक कि उनकी वायरल होती इस पोस्ट का मामला मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कार्यालय तक पहुंच गया। प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के प्रमुख सचिव एसके मिश्रा के मुताबिक मामला मुख्य सचिव तक पहुंच गया है।

मुख्य सचिव के हवाले से मिश्रा ने बताया कि जिलाधिकारी की पोस्ट की जांच की जाएगी, अगर पोस्ट का मैटर सिविल सेवा आचार संहिता के खिलाफ पाया गया तो जिलाधिकारी अजय गंगवार के खिलाफ कार्रवाई कर उनसे जवाब तलब किया जाएगा।

नेहरू-गांधी परिवार की तारीफ में फंसे IAS अधिकारी

| उत्तर प्रदेश | 0 Comments
About The Author
-