राजस्थान के कोटा में 13 साल की नाबालिग लड़की को सवा लाख में खरीदने और कई बार दुष्कर्म करने का मामला सामने आया हैं। पुलिस ने इस मामले में आठ लोगों को गिरफ्तार किया है। पीडित लड़की 5 जुलाई को कोटा में लावारिस अवस्था में मिली थी। पुलिस ने उसे शेल्टर होम में भेज दिया था जहां काउंसलिंग के दौरान उसे बेचे जाने की बात सामने आई। पुलिस ने इस मामले में पहले दो लोगों को गिरफ्तार किया था और रविवार को छह अन्य लोगों को गिरफतार किया।

बदमाशों के इस गिरोह में एक महिला मंजु मीणा उर्फ प्रेमी भी शामिल हैं। पुलिस के अनुसार इस गिरोह के तार मध्यप्रदेश और राजस्थान के किसी मानव तस्करी गिरोह से जुड़े हो सकते हैं। इन तथ्यों की भी कोटा पुलिस पड़ताल कर रही हैं।

आरोपित महिला मंजु मीणा 13 साल की पीड़ि‍ता किशोरी को प्रतापगढ़ से कोटा लाई थी। यहां 1.25 लाख में सौदे की बात छेड़ने के बाद आपसी सहमति से तय हुई रकम 1 लाख 17 हजार 500 रुपये में 20 साल के आरोपी धर्मराज को बेच दिया। नाबालिग लड़की को सवा लाख रुपए देकर खरीदने वाले आरोपी ने उसके साथ कई बार दुष्कर्म किया। किशोरी फिलहाल करणीनगर विकास समिति के आश्रयगृह में है।

 

नाबालिग को सवा लाख में खरीदा, रेप कर लावारिस छोड़ा

| उत्तर प्रदेश | 0 Comments
About The Author
-