indore_nude_story2_1

हाल ही में मध्य प्रदेश के रतलाम में एक विवाहिता को प्रेमी संग भागने की क्रूर सजा दी गई। पकड़े जाने के बाद पति ने महिला और उसके प्रेमी को निर्वस्त्र किया और करीब एक घंटे तक पूरे गांव के सामने घुमाया। यह मध्य प्रदेश की पहली ऐसी घटना नहीं है जहां किसी महिला को ऐसे निर्वस्त्र करके पूरे गांव में घुमाया गया हो।

अंग्रेजी वेबसाइट की खबर के मुताबिक राज्य गृह विभाग ने एक रिपोर्ट दी है जिसमें बताया गया कि 2013 से 2015 के बीच 31 महिलाओं को भीड़ के बीच में निर्वस्त्र किया गया और उनकी पूरे गांव में परेड निकाली गई।

महिलाओं के खिलाफ अपराधों की कमी नहीं

9 नवंबर 2016 के दिन एक महिला को पति के साथ धोखा करने के आरोप में पीटा गया और बिना कपड़ों के पूरे गांव में परेड निकाली गई।

भिंड जिले में ऐसे ही एक बहू से नाराज ससुराल वालों ने 12 नवंबर 2015 के दिन उसे बिना कपड़ों के घुमाया।

7 नवंबर 2015 के दिन एक महिला को जादू टोने के आरोप में मध्य प्रदेश के खंडवा जिले में बिना कपड़ों के घुमाया गया।

19 मार्च 2014 को एक 22 साल की युवती का रेप किया गया और उसके बाद उसका भी यही हाल किया गया।

13 जून 2014 के दिन खंडवा जिले में ही एक आदिवासी महिला का 10 आरोपियों ने बलात्कार किया और उसे बिना कपड़ों के सांची टाउन में लोगों के सामने घुमाया।

मध्य प्रदेश राज्य के गृह विभाग की जारी रिपोर्ट में पिछले साल के कई आंकड़े भी सार्वजनिक किए गए हैं। रिपोर्ट के मुताबिक महिलाओं के खिलाफ राज्य में 9,056 छेड़छाड़, 5,126 अपरहण, 3,953 महिलाओं का रेप, 5,059 महिलाओं पर अत्याचार, 10,111 आपराधिक धमकी, 661 दहेज मामले और 36 तस्करी के केस दर्ज किए गए हैं।

बताते चलें कि नेशनल क्राइम रिकॉर्ड ब्यूरो ने भी अपनी रिपोर्ट में मध्य प्रदेश को शर्मसार करने वाले आकंड़े पेश किए हैं। इस रिपोर्ट के मुताबिक मध्य प्रदेश में महिलाओं के साथ हुए यौन शोषण के 12,387 मामले दर्ज हुए हैं। महाराष्ट्र के बाद मध्य प्रदेश इस लिस्ट में दूसरे नंबर पर रहा।

दो साल के अंदर 31 महिलाओं को भीड़ ने निर्वस्त्र घुमाया

| उत्तर प्रदेश | 0 Comments
About The Author
-