मास्को। अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा के आदेश पर देश से निष्कासित 35 रूसी राजनयिक सोमवार की सुबह मोस्को पहुंच गए हैं। रूसी सरकार के रोसिया विशेष विमान टुकड़ी का विमान राजनयिकों और उनके परिवारों को लेकर मोस्को पहुंच गया है।

रूस की समाचार एजेंसी ने रूस के दूतावास के हवाले से बताया कि रूसी राजनयिकों को लेकर विमान वाशिंगटन से रविवार दोपहर रवाना हुआ था।

अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने पद छोड़ने के महज 21 दिन पहले आदेश जारी कर रूस के खिलाफ सख्त कार्रवाई की घोषणा की है। आठ नवंबर को हुए चुनावों में सायबर हैकिंग का बदला लेते हुए ओबामा ने अमेरिका में काम कर रहे 35 रूसी अफसरों को देश से निकालने की घोषणा की। उन्होंने दो रूसी दफ्तरों को भी बंद करने के आदेश दिए।

गौरतलब है कि ओबामा ने जासूसी करने का संदेह होने पर 35 रूसी राजनयिकों को देश छोडऩे का आदेश दिया था। ओबामा ने गत वर्ष राष्ट्रपति चुनाव के दौरान अमेरिकी राजनीतिक दलों के ई-मेल हैक करने के आरोप में दो रूसी खुफिया एजेंसियों पर भी प्रतिबंध लगा दिया है।

रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने बदले की भावना से काम न करते हुए किसी अमेरिकी राजनयिक को देश से न निकालने का फैसला किया है। वह अमेरिका के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के 20 जनवरी को कार्यभार ग्रहण करने का इंतजार कर रहे हैं। इसके बाद ही वह कोई कदम उठाने का फैसला करेंगे।

देश से निष्कासित 35 रूसी राजनयिक सोमवार की सुबह मोस्को पहुचे

| देश विदेश | 0 Comments
About The Author
-