money

एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स की एक रिपोर्ट के मुताबिक साल 2014-15 के दौरान देश की 19 राजनीतिक पार्टियों को 6 चुनावी ट्रस्ट के जरिए 177.4 करोड़ रुपए का चंदा मिला। इसमें से सबसे ज्यादा 111.5 करोड़ रुपए का चंदा भाजपा को मिला। इसके बाद सबसे ज्यादा चंदा पाने वालों में दूसरे नंबर पर कांग्रेस पार्टी रही जिसे 31.7 करोड़ रुपए का चंदा मिला वहीं एनसीपी सबसे ज्यादा चंदा पाने वालों की लिस्ट में तीसरे नंबर पर रही और उसे 6.8 करोड़ रुपए का चंदा मिला।

रिपोर्ट के मुताबिक, इंडियाबुल्स हाउसिंग फाइनेंस लिमिटेड कंपनी, डीएलएफ ग्रुप और भारती एयरटेल ने भाजपा को सबसे ज्यादा चंदा दिया। वहीं टाटा ग्रुप और सीईएटी लिमिटेड ने कांग्रेस को चंदा दिया।

इंडियाबुल्स ने कुल चंदे का 22.5 फीसद चंदा सत्या इलेक्ट्रोरल ट्रस्ट को दिया। इसके बाद डीएलएफ ने 25 करोड़ रुपए का चंदा दिया। इनके अलावा हीरो मोटोकॉप, भारती इंफ्राटेल, कल्पतरू पावर ट्रांसमिशन ने सत्या इलेक्ट्रॉल ट्रस्ट को चंदा दिया।

सत्या इलेक्ट्रॉल ट्रस्ट ने उसे मिले चंदे का 75.7 फीसद हिस्सा भाजपा को दिया। इसके अलावा उसने दूसरी पार्टियों को भी चंदे में सहयोग किया, जिसमें से 18.8 करोड़ रुपए कांग्रेस को, 6 करोड़ एनसीपी को 5 करोड़ आईएनएलडी को 1 करोड़ रुपए जदयू, सपा, लोजपा और तेदेपा को दिया। सत्या इलेक्ट्रॉल ट्रस्ट ने 50 लाख रुपए का चंदा राजद को भी दिया।

 

देश की 19 राजनीतिक पार्टियों को मिला 177 करोड़ रुपए चंदा: रिपोर्ट

| देश विदेश | 0 Comments
About The Author
-