delhi-metro-collection-agen_18_08_2016

नई दिल्ली। एक कलेक्शन एजेंट दिल्ली मेट्रो के 50 लाख रुपये लेकर फरार हो गया। उसे कई मेट्रो स्टेशनों पर पैसे कलेक्ट करने के लिए भेजा गया था। पैसा आरकेपुरम के भीकाजी कामा प्लेस स्थित पंजाब नेशनल बैंक की ब्रांच में जमा करना था।

आरोपी निजी सुरक्षा एजेंसी एसआइएस में कार्यरत है। कंपनी के मैनेजर की शिकायत पर केंद्रीय सचिवालय मेट्रो थाना पुलिस ने अमानत में खयानत का मामला दर्ज कर लिया है। आरोपी की पहचान महिपालपुर निवासी नीरज के रूप में हुई है।

पुलिस के अनुसार, मूल रूप से बिहार के वैशाली जिले का रहने वाला नीरज ढाई साल से ओखला स्थित एसआइएस कंपनी में कलेक्शन एजेंट था। इस कंपनी का पंजाब नेशनल बैंक से करार है। मंगलवार को कंपनी के मैनेजर सुजीत कुमार सिंह ने केंद्रीय सचिवालय मेट्रो थाने में नीरज के खिलाफ मामला दर्ज कराया था।

उन्होंने बताया कि नीरज ने मंगलवार को पटेल चौक, केंद्रीय सचिवालय लाइन दो, केंद्रीय सचिवालय लाइन छह, रेसकोर्स, जोरबाग, आइएनए और उद्योग भवन मेट्रो स्टेशन से 50 लाख 33 हजार 500 रुपये का कलेक्शन किया। इसके बाद उसे एम्स मेट्रो स्टेशन के बाहर कैश वैन के पास पहुंचना था।

नीरज कैश वैन के पास नहीं आया तो वहां मौजूद कर्मचारी रंजन कुमार सिंह ने उसके मोबाइल फोन पर बात करने की कोशिश की। उसका फोन स्विच ऑफ था। रंजन ने यह बात कंपनी के अधिकारियों को बताई। इसके बाद पुलिस को सूचना दी गई।

पुलिस की एक टीम ने उसके गांव में दबिश दी, लेकिन वह नहीं मिला। नीरज के परिचितों से उसका पता लगाने की कोशिश की जा रही है। अब तक की जांच में पता चला है कि वह दो बजे उद्योग भवन मेट्रो स्टेशन पहुंचा था। इसके बाद वह मालवीय नगर मेट्रो स्टेशन से 38 मिनट बाद बाहर निकल गया।

जानकारी के मुताबिक, एक दिन में 12 लाख रुपये का ही कलेक्शन किया जा सकता है। इसके बावजूद उसने 50 लाख रुपये से ज्यादा का कलेक्शन किया। पुलिस इस बात की भी जांच कर रही है कि आखिर यह कैसे हुआ। अधिकारियों को इसका पता क्यों नहीं चला।

हौजखास में रिचार्ज कराया मेट्रो कार्ड

नीरज जो रुपये लेकर भागा है, उसी से उसने अपना मेट्रो का स्मार्ट कार्ड भी रिचार्ज कराया है। हौजखास मेट्रो स्टेशन पर लगे सीसीटीवी कैमरे में वह कार्ड रिचार्ज कराते नजर आ रहा है। फुटेज बुधवार की है।

उसने बैग खुद से कुछ दूर रख दिया था। इस दौरान बैग के पास एक अन्य व्यक्ति भी दिखाई दिया है। पुलिस को वारदात में अन्य आरोपियों के शामिल होने का भी अंदेशा है।

दिल्ली मेट्रो के 50 लाख लेकर कलेक्शन एजेंट फरार

| उत्तर प्रदेश | 0 Comments
About The Author
-