sikh riot 28 08 2016

दिल्ली सरकार ने 1984 के दंगा पीड़ितों को दिए 55.49 करोड़ रुपए केंद्र से मांगे हैं। दिल्ली सरकार का कहना है कि इस बारे में कुछ समय पहले ही केंद्र सरकार को पत्र लिखा गया है। 1984 के दंगा पीड़ितों को रोटी व रोजगार की परेशान न हो, इसे देखते हुए 6 नवंबर 1984 से अब तक मुआवजा राशि दी जाती रही है। 1984 में भारत सरकार ने दंगा पीड़ितों को 10-10 हजार की राशि दी थी। 1986 में 20 हजार की गई। 2006 में फिर से केंद्र सरकार ने इसे साढ़े तीन लाख किया था। इसके बाद 16 दिसंबर 2014 को केंद्र ने पांच लाख के हिसाब से मुआवजा राशि देने की घोषणा की थी।

केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने कुछ परिवारों को यह राशि दी थी। दिल्ली सरकार के एक अधिकारी कहते हैं कि व्यवस्था के अनुसार यह राशि दिल्ली सरकार के पास आनी थी। जिसे दिल्ली सरकार ने दंगा पीड़ितों को बांटना था। मगर केंद्र सरकार से यह राशि नहीं आई है, जबकि दिल्ली सरकार विभिन्न जिला राजस्व कार्यालयों के माध्यम से 2049 दंगा पीड़ितों को यह राशि बांट चुकी है।

 

दिल्ली ने केंद्र से मांगे सिख दंगा पीड़ितों के 55 करोड़

| उत्तर प्रदेश | 0 Comments
About The Author
-