प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बजट 2017 की तारीफ की है। उन्‍होंने कहा कि वित्‍त अरुण जेटली ने दाल से डाटा तक सबको ख्‍याल रखा है। टैक्‍स रेट घटाने का ऐलान साहसपूर्ण हैं। इस बजट से रोजगार बढ़ेंगे, मजदूरों को फायदा होगा। वित्त मंत्री अरुण जेटली ने बजट में मिडिल क्‍लास को राहत देते हुए इनकम टैक्‍स घटाया है। साथ ही राजनीतिक पार्टियों को 2000 रुपये से ज्‍यादा के नकद चंदे पर भी रोक लगा दी गई। कालेधन पर रोक लगाने वाले फैसले के तहत तीन लाख रुपये से ज्‍यादा के कैश लेनदेन को भी बंद कर दिया गया है।

जेटली ने बजट पेश करते हुए कहा कि 3 से पांच लाख रुपये की सालाना कमाई पर अब पांच प्रतिशत की दर से टैक्‍स लगेगा। वर्तमान में यह दर 10 प्रतिशत है। रेलवे को लेकर घोषणाओं में ई-टिकट से सर्विस चार्ज हटाने का फैसला लिया गया है। बजट में झारखंड और गुजरात में एम्‍स खोले जाने, मनरेगा का बजट आवंटन बढ़ाकर 48 हजार करोड़ रुपये करने, प्रधानमंत्री आवास योजना में 23 हजार करोड़, प्रधानमंत्री सड़क योजना में 2019 तक 4 लाख करोड़ खर्च करने की घोषणा की गई है। जेटली ने बजट पेश करते हुए कहा कि भारत दुनिया में मंदी के बीच उभरता सितारा है। इस साल अर्थव्‍यवस्‍था पटरी पर आएगी। उन्‍होंने नरेंद्र मोदी सरकार के कार्यकाल की उपलब्धियां गिनाते हुए कहा कि महंगाई की दर को 6 प्रतिशत से कम पर लाए हैं। जीएसटी और नोटबंदी बड़ा फैसला है। कालेधन के खिलाफ लड़ाई लड़ी है। नोटबंदी से टैक्‍स कलेक्‍शन बढ़ा है।

दाल से डाटा तक सबका रखा ध्‍यान : नरेंद्र मोदी

| उत्तर प्रदेश | 0 Comments
About The Author
-