parliament-dalit-debate 2016811 113616 11 08 2016

लोकसभा में देश के अलग-अलग हिस्सों में दलितों पर हो रहे अत्याचारों पर चर्चा होगी। लोकसभा में यह चर्चा नियम 193 के तहत होगी। मोदी दलितों पर हुए हमलों के मुद्दे पर कह चुके है कि यदि कोई हमला करना चाहता है तो उन पर करे, दलितों पर नहीं।

लोकसभा में चर्चा दोपहर 2 बजे शुरु होगी। सरकार की ओर से चर्चा का जवाब केन्द्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह देंगे। मोदी ने हैदराबाद में अपनी यात्रा के दौरान कहा था कि यदि हमला करना है तो मुझ पर करो, दलितों पर नहीं, यदि गोली मारनी है, तो मुझे मारें।

इससे पहले मोदी ने गौरक्षकों द्वारा दलितों के खिलाफ की गई हिंसा पर अपना बयान दिया था। मोदी ने उन फर्जी गौरक्षकों को असामाजिक तत्व बताते हुए कहा था कि ये लोग गाय की रक्षा के नाम पर दुकान चला रहे हैं। पीएम ने कहा था कि इससे उन्हें दुख होता है।

इन घटनाओं को लेकर विपक्ष लगातार सरकार पर हमले कर रहा है। बसपा प्रमुख मायावती की ओर से कई बार इन घटनाओं को संसद में उठाया गया है और उन्होंने पीएम नरेंद्र मोदी से बयान देने की भी मांग की थी।

मायावती के अलावा कई दूसरे दलों के नेताओं ने भी इन घटनाओं को पीएम से जवाब मांगा था। संसदीय कार्य मंत्री अनंत कुमार ने कल कहा था कि केंद्र सरकार को चर्चा कराने में कोई हिचकिचाहट नहीं है और वो सदन में इसके लिए तैयार है।

 

दलित मुद्दे पर लोकसभा में होगी चर्चा, गृहमंत्री देंगे जवाब

| उत्तर प्रदेश | 0 Comments
About The Author
-