g-1453932663

रिपब्लिकन पार्टी की के प्रत्‍याशी डोनाल्‍ड ट्रम्‍प अमेरिका के नए राष्‍ट्रपति बन गए हैं। उनकी जीत से दुनिया के कुछ देशों में जहां मातम छा गया है वहीं भारत सहित अधिकांश मुल्‍कों में जश्‍न का माहौल बन गया है। ट्रम्‍प के व्‍हाइट हाउस पहुंचने का फायदा भारत को भी होगा। कुछ अमेरिकी विशेषज्ञों का मानना है कि ट्रम्‍प, चीन और पाकिस्तान को अमेरिका की ओर से मिलने वाली आर्थिक सहायता में कटौती करेंगे।

अमेरिका में मैन्युफैक्चरिंग जॉब लाने के अपने वादे को ट्रम्‍प पूरा करने की कोशिश करेंगे जिससे चीन का नुकसान होगा और चीन का नुकसान भारत के लिए फायदा होगा।

ट्रम्‍प के अमेरिकी राष्ट्रपति बनने से भारत की स्थिति क्या होगी, इस बात का अंदाजा इससे लगाया जा सकता है कि उन्होंने भारत के बारे में क्या बोला और अपने पड़ोसियों के बारे में क्या बोला। अब तक उनके बयान से ऐसा लगता है कि वह भारत-अमेरिका संबंध को एक निश्चित दायरे से बाहर निकालेंगे। वह भारत के साथ बहुत अच्छा संबंध बनाएंगे और जैसा कि वह कहते हैं, भारत के साथ आश्चर्यजनक संबंध बनाएंगे।

राष्ट्रपति बनने के बाद ट्रम्‍प भारत का समर्थन करके एशिया में शक्ति के संतुलन को बदल सकते हैं। चीन और पाकिस्तान दशकों से अमेरिका को नकदी देने वाली गाय के तौर पर इस्तेमाल करते रहे हैं। चीन ने ट्रेड सरप्लस की मदद से तो पाकिस्तान डबल गेम खेलकर चरमपंथी इस्लामी ताकतों से लड़ने की आड़ में अमेरिका से आर्थिक मदद लेता रहा है।

ट्रम्पो के व्हामइट हाउस पहुंचने का भारत को भी होगा फायदा

| उत्तर प्रदेश | 0 Comments
About The Author
-