श्रीनगर। दुबई स्थित स्टेडियम में क्रिकेट टूर्नामेंट आयोजित हो रहा है। इसमें कश्मीरी युवा बढ़-चढ़कर हिस्सा लेते दिख रहे हैं। आलम यह है कि जब कश्मीरी युवा दुबई के स्टेडियम में क्रिकेट खेल रहे होते हैं तो दूसरी तरफ कश्मीर में मौजूद युवा इन मैचों की पल-पल की जानकारी सोशल मीडिया के जरिेए जानने में बिजी होते हैं।

हर शुक्रवार यूनाइटेड अरब अमीरात दुबई में 14 टीमों के 224 खिलाड़ी क्रिकेट के मैदान में उतरते हैं जो कि कश्मीर घाटी से ताल्लुक रखते हैं। दुबई शहर से 30 किमी दूर अजमान ओवल स्टेडियम में दूधिया रोशनी के बीच यह मैच खेले जाते हैं। यह एक सेल्फ स्पांसर्ड टूर्नामेंट है। यही कारण है कि हर बात में कश्मीर सुपरलीग पॉपुलर हो रहा है।

इस टूर्नामेंट के बूते 52 कश्मीरी युवाओं को दुबई में नौकरी भी मिल गई। वो यहां विजिटर वीजा के जरिए गए हैं। टूर्नामेंट जनवरी के पहले सप्ताह में शुरू हो चुके हैं।

एक अंग्रेजी अखबार से हुई बातचीत में आईटी इंजीनियर जुबैर शाह ने बताया, ‘कश्मीरी सुपर लीग को शुरू करने के पीछे का मकसद सभी कश्मीरियों को आपस में जोड़ना था। कई कश्मीरी दुबई में काम कर रहे हैं। इस लीग के जरिए अलग-अलग क्षेत्रों के योग्य लोगों को साथ लाने की कोशिश की गई है। टूर्नामेंट ने इस काम में खूब मदद की है।शाह ने बताया,’यह टूर्नामेंट जम्मू और कश्मीर के लोगों को नया प्लेटफार्म उपलब्ध करवा रहा है।’ आईपीएल की तर्ज पर इस टूर्नामेंट को भी डिजाइन किया गया है।

टूर्नामेंट के बूते 52 कश्मीरी युवाओं को दुबई में मिली नौकरी

| उत्तर प्रदेश | 0 Comments
About The Author
-