तमिलनाडु में सांडों पर काबू पाने के प्राचीन और लोकप्रिय खेल जल्लीकट्टू के आयोजन और पशु अधिकार संगठन ‘पेटा’ पर प्रतिबंध की मांग कर रहे युवाओं का राज्यभर में हो रहा प्रदर्शन उग्र हो गया है। बुधवार को चेन्नई के मरीना बीच पर बुधवार को हजारों लोग इकट्ठे हो गए। इनमें अधिकतर स्टूडेंट्स और युवा हैं। प्रदर्शनकारियों के बढ़ते आक्रोश के बीच मुख्यमंत्री ओ. पनीरसेल्वम ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से बृहस्पतिवार को इस मुद्दे पर मुलाकात की।

उन्‍होंने कहा कि मुलाकात में हमने प्रधानमंत्री से अपील की कि वो जलीकट्टू से प्रतिबंध हटाते हुए इसके आयोजन के लिए ऑर्डिनेंस लेकर आएं। हमने उन्‍हें राज्‍य के 50 प्रतिशत हिस्‍से में सूखे की स्थिति से भी अवगत करवाया है। पीएम ने कहा है कि वो राज्‍य के सांस्‍कृतिक मूल्‍यों को सबसे ज्‍यादा महत्‍व देते हैं लेकिन फिलहाल जलीकट्टू का मामला विचाराधीन है और इस पर फैसला नहीं आया है। राज्‍य सरकार जो भी कदम उठाती है पीएम मोदी ने उसके समर्थन का आश्‍वासन दिया है। इंतजार करें, जल्‍द अच्‍छी खबर मिलेगी।

जल्लीकट्टू के मुद्दे पर पीएम से मिले तमिलनाडु CM

| उत्तर प्रदेश | 0 Comments
About The Author
-