नई दिल्ली। अगर चार्टेर्ड अकाउंटेंट (सीए) इनकम टैक्स पेयर्स का गलत विवरण जमा कराते हैं तो टैक्स अधिकारी ऐसे सीए पर 10 हजार रुपए का जुर्माना लगाएंगे। केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (सीबीडीटी) के चेयरमैन सुशील चंद्रा ने बताया, ‘सेक्शन 271 जे के अनुसार हमने सीए, मूल्यांककों और मर्चेंट बैंकर्स की जिम्मेदारी तय की है, जो ऑडिट, मूल्यांकन रिपोर्ट और अन्य चीजें जमा कराते हैं। ऐेसे में अगर वे कोई गलत सूचना रिटर्न में देते हैं तो उन पर 10 हजार रुपये का जुर्माना लगेगा।’

उन्होंने यह भी कहा कि पूरी प्रणाली सीए पर काफी भरोसा करती है और उन्हें अधिक जिम्मेदार होना चाहिए। चंद्रा ने कहा कि बजट का उद्देश्य कर अनुपालन में सुधार करना और कर दायरा बढ़ाना व कारोबार की स्थिति सुगम करना है। निचले कर के बावजूद अनुपालन का स्तर काफी कम है। उन्होंने कहा कि पनामा दस्तावेजों और अन्य कालाधन संबंधी रिपोर्ट्स में भारतीयों की संख्या काफी अधिक है।

गलत जानकारी दी तो CA को भरना होगा जुर्माना

| उत्तर प्रदेश | 0 Comments
About The Author
-