index

नई दिल्ली। लाभ के पद मुद्दे पर आम आदमी पार्टी (AAP) के 21 विधायकों पर सदस्यता खत्म होने की आशंका के बीच पार्टी के 27 और विधायक अब मुसीबत में पड़ गए हैं। आप के इन 27 विधायकों पर लाभ के पद पर होने का आरोप है। इस बाबत शिकायत जून में चुनाव चुनाव आयोग से की गई थी। अब इस पर कार्रवाई की दिशा में आगे बढ़ते हुए चुनाव आयोग ने 27 विधायकों को नोटिस जारी कर 11 नवंबर तक जवाब मांगा है। इतना ही नहीं, चुनाव आयोग इस मामले को पहले ही राष्ट्रपति के पास भेज चुका है।

अब सबकी निगाहें राष्ट्रपति भवन पर लग गई हैं। यह मामला संसदीय सचिव के 21 पदों से अलग है, जिनकी सुनवाई चुनाव आयोग में चल रही है।

गौरतलब है कि दिल्ली के लॉ स्टुडेंट विभोर आनंद ने चुनाव आयोग में शिकायत दी है। इसमें आरोप लगाया है कि 27 आप विधायक रोगी कल्याण समिति में अध्यक्ष के पद पर होने के नाते लाभ के पद पर हैं। ऐसे में नियमों के तहत इन 27 आप विधायकों की विधानसभा से सदस्यता रद की जाए।

विभोर आनंद ने अपनी शिकायत में यह तर्क दिया है कि रोगी कल्याण समिति में विधायक सदस्य के तौर पर शामिल हो सकता है, लेकिन अध्यक्ष के पद पर नहीं। ऐसे में यह लाभ का पद है।

हैरानी की बात तो यह है कि इन 27 विधायकों में 10 विधायक ऐसे हैं जो पहले से संसदीय सचिव बनाए जाने पर लाभ के पद के आरोप में विधायकी जाने का खतरा झेल रहे हैं और चुनाव आयोग इनकी सुनवाई कर रहा है।

1.शिव चरण गोयल- मोती नगर

2.जरनैल सिंह- तिलक नगर

3.अलका लांबा- चांदनी चौक

4.कैलाश गहलोत- नजफ़गढ़

5.अनिल कुमार बाजपेई- गांधी नगर

6.राजेश गुप्ता- वज़ीरपुर

7.नरेश यादव- मेहरौली

8.राजेश ऋषि- जनकपुरी

9.मदन लाल- कस्तूरबा नगर

10.शरद चौहान- नरेला

11.बन्दना कुमारी- शालीमार बाग

12अजेश यादव- बादली

13.जगदीप सिंह- हरी नगर

14.एस के बग्गा- कृष्णा नगर

15.जीतेन्द्र सिंह तोमर- त्री नगर

16.राम निवास गोयल- शाहदरा

17.विशेष रवि- करोल बाग

18.नितिन त्यागी- लक्ष्मी नगर

19.वेद प्रकाश- बवाना

20.सोमनाथ भारती- मालवीय नगर

21.पंकज पुष्कर- तिमारपुर

22.राजेंद्र पाल गौतम- सीमापुरी

23.हज़ारी लाल चौहान- पटेल नगर

24.राखी बिड़लान- मंगोलपुरी

25.मोहम्मद इशराक- सीलमपुर

26.कमांडो सुरेंद्र- दिल्ली कैंट

27.महेंद्र गोयल- रिठाला

 

खतरे में केजरीवाल के 27 और विधायकों की सदस्यता

| उत्तर प्रदेश | 0 Comments
About The Author
-