पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव से ठीक पहले आम बजट पेश करने पर विपक्ष की आपत्ति पर चुनाव आयोग ने सरकार से पत्र लिख जवाब मांगा है। चुनाव आयोग ने कैबिनेट सेक्रेटरी प्रदीप कुमार सिन्हा को पत्र लिख कर इस मुद्दे पर जवाब मांगा है।

सरकारी सूत्रों के मुताबिक चुनाव आयोग ने कैबिनेट सेक्रेटरी को 10 जनवरी तक अपना जवाब देने को कहा है। कैबिनेट सेक्रेटरी की जवाब आने के बाद ही चुनाव आयोग इस संबंध में कोई निर्णय लेगा। चुनाव आयोग का यह कदम विपक्षी पार्टियों से मुख्य चुनाव आयुक्त के मुलाकात के एक दिन बाद आया है।

बता दें कि इससे पहले कांग्रेस समेत 16 विपक्षी दल चुनाव से ठीक पहले आम बजट पेश करने पर आपत्ति जताते हुए राष्ट्रपति भवन का दरवाजा भी खटखटा चुके हैं। विपक्ष की आपत्ति है कि चूंकि आम बजट पहले चरण के चुनाव के ठीक तीन दिन पहले पेश होगा। ऐसे में सरकार लोकलुभावन घोषणाओं के जरिए मतदाताओं को आकर्षित करने की कोशिश करेगी।

विपक्ष का कहना है कि इससे सार्वजनिक रूप से मंगलवार से लागू आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन होगा।

क्यों न टाला जाए आम बजट, चुनाव आयोग ने सरकार से मांगा जवाब

| उत्तर प्रदेश | 0 Comments
About The Author
-