अकाली दल के प्रमुख बादल ने तो यहां तक कह दिया कि जैसा आयोजन नीतीश ने किया है ऐसा आयोजन वो भी पंजाब में नहीं कर पाते। भाजपा हो या कांग्रेस या फिर आप या अकाली, सभी दलों ने प्रकाशपर्व के मौके बिहार में अपना सियासी विजय रथ को पड़ाव दिया।

बृहस्पतिवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी बिहार आए तो एनडीए के पुराने सहयोगी नीतीश कुमार से दूरी पाटने की कोशिश की। उन्होंने नीतीश की जमकर तारीफ की और यह भी कहा कि बिहार में जो प्रकाश जन्म लेता है, वो समस्त विश्व को रास्ता दिखाता है।

बिहार जिस प्रकार सभी धर्मों को खुद में समाहित कर लेने की क्षमता रहता है, आज की तारीख में नीतीश कुमार भी सभी दलों के साथ खुद को खड़ा रखने में कामयाब होते दिख रहे हैं।

केंद्रीय मंत्री एसएस अहलूवालिया ने नीतीश को कहा असली सरदार

| उत्तर प्रदेश | 0 Comments
About The Author
-