conwoman-mba-girl 2016826 113420 25 08 2016

बीमा करने के नाम पर 1000 लोगों से पांच करोड़ की ठगी करने वाले गिरोह की सरगना दिल्ली निवासी एमबीए पास गुंजन है। ठगी के धंधे में वह प्रिया नाम से जानी जाती है। यह खुलासा एसटीएफ लखनऊ को पकड़े गए तीन आरोपियों से पूछताछ में हुआ है। एसटीएफ की छापेमारी से कुछ देर पहले ही गुंजन नोएडा के सेक्टर 63 स्थित कॉल सेंटर से निकल गई। उसकी तलाश में अब दिल्ली में छापामारी की जा रही है।

एमबीए करने के बाद गुंजन नोएडा के एक कॉल सेंटर में काम करने लगी। उसके साथ संभल निवासी विरासत, दिल्ली के जामिया नगर के मुकर्रम और इमरान भी काम करते थे। गुंजन ने तीनों के साथ मिलकर अक्टूबर 2015 में फर्जी कॉल सेंटर खोला और फोन पर लोगों को बीमा करने व बोनस देने का प्रलोभन देने लगे।

बीमे के नाम पर जो लोग रुपये देने को तैयार हो जाते थे, उन्हें फर्जी कागजात थमा दिए जाते थे। फोन करने के लिए गुंजन अपने एक डाटा वेंडर दोस्त से डाटा लेती थी। वह उसे प्रति डाटा 35 पैसे का भुगतान करती थी।

गुंजन ने ओजस्वी नामक रीयल स्टेट कंपनी भी बनाई, जिसका ब्रोशर और वेबसाइट भी तैयार कराई गई। लोगों को लखनऊ और नोएडा में सस्ते फ्लैट देने का वादा किया गया। यहां भी तीन लोगों से लाखों रुपए ठगे। लखनऊ के एक व्यक्ति से 43 लाख रुपए भी लिए गए थे।

 

करोड़ों की ठगी करने वाले गिरोह की सरगना निकली एमबीए पास युवती

| उत्तर प्रदेश | 0 Comments
About The Author
-