wikileaks_22_10_2016

वाशिंगटन। विकीलीक्स ने अब अमेरिका के राष्ट्रपति बराक ओबामा के निजी ई-मेल्स को सार्वजनिक करने का दावा किया है। इसे गोपनीय दस्तावेजों को लीक करने वाली बेवसाइट के रूप में जाना जाता है। विकीलीक्स के इस खुलासे के बाद अमेरिकी राष्ट्रपति चुनावों में डेमोक्रेटिक पार्टी को मुश्किलों का सामना करना पड़ सकता है।

जिस अंदाज में ट्वीट किया गया है, उससे लगता है कि ओबामा की और भी निजी बातचीत का खुलासा हो सकता है। न्यूयॉर्क पोस्ट के अनुसार, विकीलीक्स ने सात संदेशों को प्रकाशित किया है, जिसमें एक ई-मेल एड्रेस commander-in-cheif:bobama@ameritech.net का भी जिक्र किया गया है।

4 नवंबर, 2008 को भेजी तथा प्राप्त की गई एक मेल का भी इसमें जिक्र है, जिस दिन राष्ट्रपति चुनाव था। ओबामा की ट्रांजिशन टीम के सह अध्यक्ष जॉन पोडेस्टा ने ओबामा से आग्रह किया है कि वह वैश्विक वित्तीय संकट पर 15 नवंबर को होने वाले जी-20 बैठक में हिस्सा न लें।

पोडेस्टा ने कहा, ‘हो सकता है कि राष्ट्रपति जॉर्ज बुश इस मुद्दे को आपके समक्ष रात में उठाएं। मैं चाहता हूं कि आप इस बात को समझ लें कि यह आपके लिए भाग न लें।’ आपको बता दें कि जब वाशिंगटन में जी-20 की बैठक हुई थी, तो वहां ओबामा नहीं पहुंचे थे।

ओबामा के कथित पते पर गुरुवार को एक ई-मेल भेजा गया, जो वापस नहीं आया, जिसका मतलब है कि यह अकाउंट अभी भी संचालन में है। फिलहाल व्हाइट हाउस ने इस मुद्दे पर किसी भी तरह की प्रतिक्रिया देने से इंकार कर दिया है।

अमेरिकी खुफिया अधिकारियों का मानना है कि डेमोक्रेटिक पार्टी से संबंधित ई-मेल को सार्वजनिक करने के पीछे रूस की साइबर साजिश हो सकती है। ओबामा के संदेश पोडेस्टा के हैक हुए लगभग 23,000 ई-मेल में से हैं। पोडेस्टा वर्तमान में हिलेरी क्लिंटन के प्रचार अभियान के अध्यक्ष हैं।

 

 

एक और धमाका, ओबामा के निजी ई-मेल सार्वजनिक

| देश विदेश | 0 Comments
About The Author
-