aktu_

डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम टेक्निकल यूनिवर्सिटी (एकेटीयू) रिसर्च को सुधारने के लिए कॉलेजों में यूनिवर्सिटी रिसर्च सेंटर बनाएगी। इसके लिए कॉलेजों से प्रपोजल मांगे गए हैं। कॉलेजों को 5 मई तक यूनिवर्सिटी को प्रपोजल भेजने हैं। बेस्ट प्रपोजल के आधार पर यूनि‍वर्सि‍टी फंड देकर कॉलेजों में रिसर्च सेंटर बनवाएगी।

स्‍टूडेंट्स को होगा फायदा

 इन रिसर्च सेंटर पीएचडी स्कॉलर्स और पीजी के स्टूडेंट्स को लाभ मिलेगा। पीएचडी स्कॉलर्स अब इन सेंटर्स पर जाकर क्‍वालि‍टी बेस्‍ड रि‍सर्च कर सकेंगे। सेंटरों पर मौजूद गाइड को पीएचडी स्कॉलर्स का सुपरवाइजर भी नियुक्त किया जाएगा। अब तक एकेटीयू में पीएचडी स्कॉलर्स खुद ही गाइड लाने पड़ते हैं और वे दूसरे संस्थानों के गाइडों के सुपरविजन में रिसर्च करते हैं। इस कारण रि‍सर्च में क्‍वालि‍टी सुनिश्चित नहीं हो पाती है। इसके अलावा पीएचडी स्कॉलर्स को इन रिसर्च सेंटर्स पर आसानी से लैब मुहैया हो सकेगी।

25 रिसर्च सेंटर बनाने का प्रस्ताव

एकेटीयू के डीन पीजी स्टडीज एंड रिसर्च प्रो. वीरेंद्र पाठक ने बताया कि यूपी में 20 से 25 रिसर्च सेंटर बनाए जाने हैं। इसके लिए सभी कॉलेजों से प्रपोजल मांगे गए हैं। लखनऊ में भी कई केंद्र बनाए जाएंगे। उन्होंने बताया कि अगले सत्र से पीएचडी स्कॉलर्स को इन सेंटर्स का लाभ मिलने लगेगा।

एकेटीयू बनाएगा कॉलेजों में रिसर्च सेंटर

| उत्तर प्रदेश | 0 Comments
About The Author
-