ओम पुरी जिंदगी के आखिरी दिनों में बेहद परेशान थे। उन्होंने देश में अपनी प्रॉपर्टी बेचने और फिर अमेरिका में शिफ्ट होने की तैयारी कर ली थी। ओम पुरी के करीबी लोगों और मुंबई पुलिस के सूत्रों ने  बताया कि वे शहीद सैनिक नितिन यादव के बारे में दिए अपने बयान और उसके बाद हुई आलोचना से बहुत शर्मिंदा थे। करीबी दोस्तों ने भी उन्हें कड़ी फटकार लगाई थी। दूसरी ओर, रविवार को भी प्रोड्यूसर खालिद किदवई से थाने में पूछताछ हुई। पुरी की नौकरानी और एक करीबी से भी ओशिवारा थाने में सवाल-जवाब हुए। हालांकि, पत्नी नंदिता फिर पुलिस के सामने पेश नहीं हुईं।प्रॉपर्टी असेसमेंट करा चुके थे पुरी….

 पुरी (66) ने एक करीबी से अपनी प्रॉपर्टी का असेसमेंट करा लिया था। यह करीबी उनके प्रॉपर्टी से जुड़े मामले देखता है। पुलिस ने इस शख्स से रविवार को पूछताछ की। उसने पुलिस को बताया कि पुरी फ्लोरिडा में शिफ्ट होने का मन बना चुके थे।

ओम फैमिली मैटर को लेकर तो कई साल से परेशान थे। लेकिन पिछले साल उड़ी हमले में शहीद एक जवान पर उनके बयान से बवाल मच गया था।

– इस बयान के बाद ओमपुरी के दो करीबी दोस्तों (दोनों बॉलीवुड के मशहूर एक्टर्स) ने उन्हें खूब खरी-खोटी सुनाई थीं। इनमें से एक उनका जूनियर है जो आमतौर पर उन्हें ‘ओम भाई’ कहता था लेकिन उसने पुरी के बयान के बाद उन्हें काफी खरी-खोटी सुनाई थीं।

– पुरी इससे काफी दुखी थे। उन्होंने शहीद सैनिक के घर जाकर माफी भी मांगी थी। हालांकि पुरी, खुद को माफ नहीं कर पा रहे थे और शर्मिंदगी महसूस करते थे।

– बता दें कि ओम पुरी शुक्रवार सुबह अपने फ्लैट पर मृत मिले थे। वे 66 साल के थे।

– शुरुआती पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में सामने आया कि ओम पुरी के सिर में डेढ़ इंच गहरा और 4 सेंटीमीटर लंबा जख्म का निशान था।

पूछताछ के लिए पेश नहीं हुईं पत्नी

रविवार को पुलिस ने फिल्म प्रोड्यूसर खालिद किदवई से लगातार तीसरे दिन पूछताछ की। पुलिस ने खालिद और ओम पुरी के बीच लेन-देन पर सवाल पूछे।

– पुरी की नौकरानी के अलावा एक और शख्स से पूछताछ भी हुई।

– पुरी की पत्नी नंदिता पूछताछ के लिए नहीं आईं। नंदिता ने पुलिस से कहा कि वो सोमवार को पुरी के चौथे की रस्म पूरी कर ही आ पाएंगी। हो सकता है वो मंगलवार को पेश हों।

शहीद पर क्या कहा था ओम पुरी ने?

– उड़ी आतंकी हमले के बाद जब पाकिस्तानी स्टार्स पर पाबंदी लगाई गई, तब ओम पुरी ने उनका समर्थन किया था और कहा था कि वे वैलिड वीजा पर इंडिया आते हैं।

– इस दौरान उन्होंने आतंकी हमलों में शहीद हुए जवानों पर बयान देकर विवाद खड़ा कर दिया था।

– उन्होंने एक चैनल के शो में कहा था, “कौन जबरदस्ती लोगों को फौज में भेजता है? हमने किसी जवान को फोर्स किया था कि फौज में जाओ।”

– हालांकि, बाद में उन्होंने अपने बयान पर खेद भी जताया था।

उड़ी में शहीद जवान पर दिए अपने बयान से शर्मिंदा थे ओम पुरी

| उत्तर प्रदेश | 0 Comments
About The Author
-