index

स्मार्टफोन के ऐप और फीचर से कई लोग इतना खुश हो जाते है कि हर वक्त स्क्रीन पर देखने की आदत हो जाती है। यहां तक कि चार्ज होते समय भी स्क्रीन पर कुछ ढूंढ रहे होते हैं। स्मार्टफोन को चार्ज करते समय अगर इस्तेमाल किया जा रहा है तो चार्जिंग की रफ्तार काफी कम हो जाती है। उस समय उसक डेटा नेटवर्क काम कर रहा होता है जिससे सबसे ज्यादा बैटरी की खपत होती है।

पांच इंच की स्क्रीन वाले फोन पर जब कुछ काम नहीं हो रहा होगा लेकिन डेटा सर्विस भी ऑन होगा तब भी वो चार्ज होने में करीब डेढ़ घंटे से ज्यादा समय लेता है। लेकिन अगर उसके चार्जिंग की रफ्तार को और बढ़ाना है तो उसके लिए एयरप्लेन या फ्लाइट मोड को एक्टिवेट करना होगा। स्मार्टफोन जब फ्लाइट मोड में होता है तो वो अपने नेटवर्क से कट जाता है। उस पर आप न कॉल कर सकते है न ही उसका डेटा सर्विस काम करता है। एंड्राइड स्मार्टफोन पर फ्लाइट मोड को एक्टिवेट करने के लिए आपको ऊपर से नीचे की दिशा में स्वाइप करना होगा। जितनी देर स्मार्टफोन को चार्ज करना है उतनी देर अगर फ्लाइट मोड को ऑन रहने दीजिये और फिर देखिये कितनी जल्दी स्मार्टफोन की बैटरी में जान आ जाती है।

अगर बैटरी बिलकुल खत्म हो गयी है और डेटा सर्विस ऑन है तो उस फोन को चार्ज होने में 136 मिनट लग सकते है लेकिन फ्लाइट मोड में सिर्फ 107 मिनट लगेंगे। बस ये बात याद रखिएगा कि चार्जिंग पूरी होने के बाद स्मार्टफोन को फ्लाइट मोड से हटा दीजिएगा नहीं तो आपको कोई कॉल नहीं कर पाएगा।

इस तरह झट से फुल चार्ज कर सकते हैं पूरी तरह डिस्चार्ज हुआ फोन

| उत्तर प्रदेश | 0 Comments
About The Author
-