इलाहाबाद में रविवार देर शाम ईश्वर शरण डिग्री कालेज के गेट पर छात्रों की माइक मीटिंग में बमबाजी शुरू हो गई। जब तक छात्र संभल पाते उन पर लाठी-डंडा से हमला बोल दिया गया। इस बमबाजी व हमले में छात्र नेता सूर्य प्रकाश मिश्र व डीपी यादव घायल हो गए हैं। सूचना पर कर्नलगंज थाने की पुलिस कई थानों की फोर्स के साथ पहुंची। किसी तरह नाराज छात्रों का शांत कराया।

कुछ देर बाद छात्र बड़ी संख्या में कर्नलगंज थाने पहुंच गए और एफआईआर न होने पर प्रदर्शन की चेतावनी दी। इंस्पेक्टर कर्नलगंज समीर सिंह ने छात्र संघ अध्यक्ष ऋचा सिंह की तहरीर पर इलाहाबाद यूनिवर्सिटी के कुलपति के ओएसडी अमित सिंह, प्रवेश निदेशक बीएन सिंह के बेटे सर्वेश सिंह, छात्रनेता राणा यशवंत प्रताप, नीरज प्रजापति, आकाश सिंह, भास्कर सिंह के खिलाफ नामजद तथा बीस अज्ञात के खिलाफ गंभीर धाराओं में रिपोर्ट दर्ज की।

इलाहाबाद विश्वविद्यालय की क्रेट व परास्नातक व प्रोफेशनल कोर्स की प्रवेश परीक्षा में हुई धांधली को लेकर छात्र लामबंद हो गए हैं। पूर्व छात्र संघ अध्यक्ष ऋचा सिंह के नेतृत्व में छात्र प्रवेश परीक्षाओं को निरस्त कराने के लिए लगातार धरना-प्रदर्शन कर रहे हैं। इसके तहत ऋचा सिंह ने कल शाम को ईश्वर शरण डिग्री कालेज के गेट पर छात्रों के साथ माइक मीटिंग कर रही थीं। इसी दौरान अचानक बमबाजी होने से छात्रों में भगदड़ मच गई। इससे नाराज छात्रों ने हंगामा शुरू कर दिया।

जीएन झा हॉस्टल में रहने वाले एबीपी के कार्यकर्ता व छात्र सूर्य प्रकाश मिश्र का कहना है लाठी-डंडों से लैस होकर आए हमलावरों ने उन्हें पीटा है। इससे चोटें आई हैं। सपा छात्रसभा के कार्यकर्ता डीपी यादव का कहना है कि उन पर बम से हमला किया गया था, उन्हें बम के छर्रे लगे हैं। घायल छात्रों का कहना है कि युवकों ने मीटिंग खत्म करने की धमकी दी, इंकार करने पर बमबाजी करते हुए लाठी-डंडों से पीटा। इंस्पेक्टर का कहना है कि मामले में रिपोर्ट दर्ज कर जांच की जा रही है।

इलाहाबाद में छात्रों की बैठक में फेंके बम

| उत्तर प्रदेश | 0 Comments
About The Author
-