पिछले 16 साल से भूख हड़ताल पर बैठी इरोम चानू शर्मिला (44) ने अपना अनशन तोड़ दिया है। इरोम को इम्फाल की अदालत में पेश किया गया जहां अनशन तोड़ने के बाद उन्हें 10 हजार के निजी मुचलके पर रिहा कर दिया गया।

अपना अनशन खत्म करने के बाद इरोम शर्मिला ने कहा कि ‘मुझे आज़ाद किया जाए। मुझे अजीब सी महिला की तरह देखा जा रहा है। लोग कहते हैं, राजनीति गंदी होती है, मगर समाज भी तो गंदा है। मैं सरकार के ख़िलाफ़ चुनाव में खड़ी होऊंगी। मैं सबसे कटी हुई थी। मैंने महात्मा गांधी के सिद्धांतों पर अमल किया है। मेरा जमीर कैद था, अब मुझे आज़ाद होना होगा। लोग मुझे इंसान के तौर पर क्यों नहीं देख सकते? मैं अपील करती हूं कि मुझे आज़ाद किया जाए।’

 

इरोम ने तोड़ा 16 साल पुराना अनशन, कहा- मुझे आजाद किया जाए

| उत्तर प्रदेश | 0 Comments
About The Author
-