शहरी स्थानीय निकायों (यूएलबी) के चुनाव में महिलाओं को 33 प्रतिशत आरक्षण देने का विरोध करते हुए लोगों ने नगालैंड की राजधानी कोहिमा में राज्य चुनाव आयोग और उपायुक्त के कार्यालय में तोड़फोड़ की एवं कोहिमा नगर परिषद की इमारत को आग के हवाले कर दिया। ये लोग जनजातीय समूहों के विरोध के बावजूद चुनाव के लिए आगे बढ़ने को लेकर मुख्यमंत्री टीआर जेलिआंग और उनकी पूरी कैबिनेट का इस्तीफा मांग रहे हैं। जनजातीय समूह नगर निकायों में महिलाओं के लिए 33 फीसदी आरक्षण के खिलाफ है। हालांकि, इन सभी घटनाओं की पुलिस ने फिलहाल पुष्टि नहीं की है। इससे पहले दिन में नगालैंड ट्राइब्स एक्शन कमेटी (एनटीएसी) ने जेलिआंग और उनकी कैबिनेट को शाम चार बजे तक इस्तीफा देने, दीमापुर पुलिस आयुक्त को हटाने और चुनाव को अवैध एवं अमान्य घोषित करने का अल्टीमेटम दिया। बिगड़ते हालात को देखते हुए केंद्रीय गृह मंत्रालय ने वहां पर असम राइफल्स को तैनात करने का फैसला लिया है।

आरक्षण की मांग के चलते भड़की हिंसा

| देश विदेश | 0 Comments
About The Author
-