suresh-prabhu_1464284850

रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने वित्त मंत्री अरुण जेटली को पत्र लिख कर बरसों से अलग से रेल बजट पेश करने की परंपरा को खत्म करने की मांग की है। उन्होंने इसे आम बजट में ही समाहित करने को कहा है।

रेल मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक प्रभु ने जेटली से कहा है कि अलग से रेल बजट पेश करने की 92 साल पुरानी परंपरा खत्म होनी चाहिए। इसे आम बजट में ही मिला देना चाहिए।

अधिकारी ने बताया कि वित्त मंत्री को यह चिट्ठी जून में ही भेजी गई थी। लेकिन अब तक वित्त मंत्री की ओर से इसका कोई जवाब नहीं आया है।

गौरतलब है कि नीति आयोग के सदस्य विवेक देवराय ने रेल बजट को आम बजट में ही शामिल कर लेने की सिफारिश की थी। इसके बाद पिछले महीने पीएमओ ने इस मामले में रेलवे से जवाब मांगा था।

अब जबकि रेलवे ने अपना जवाब भेज दिया है तो अब केंद्र को फैसला लेना है कि रेल बजट पेश करना जारी रखा जाए या फिर इसे आम बजट में ही समाहित कर दिया जाए।

आम बजट में ही शामिल हो रेल बजट:प्रभु

| उत्तर प्रदेश | 0 Comments
About The Author
-