Gujarat Chief Minister Anandiben Patel resigns

कुछ दिनों पहले तक खुद को मजबूत और प्रदेश के लिए उपयोगी बताती रहीं गुजरात की मुख्यमंत्री आनंदी बेन पटेल को आखिरकार पार्टी लाइन पर आना ही पड़ा। गुजरात चुनाव से पहले नेतृत्व परिवर्तन की भाजपा की मंशा को अमलीजामा पहनाते हुए उन्होंने खुद ही राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह को इस्तीफा भेज दिया। उन्होंने राज्यपाल से भी मुलाकात की। संभव है, अगले एक-दो दिनों में ही किसी युवा चेहरे को मुख्यमंत्री बनाया जाए। गुजरात में मंत्री नितिन पटेल, प्रदेश अध्यक्ष विजय रूपाणी, विधानसभा अध्यक्ष गणपत भाई बसावा और संगठन महामंत्री भीखू भाई दलसाणिया के नाम आगे माने जा रहे हैं।

आनंदीबेन को मुख्यमंत्री पद से हटाकर राज्यपाल बनाने की कवायद पहले से चल रही थी। दरअसल, गुजरात में अगले साल के अंत में विधानसभा चुनाव है और कुछ मायनों में यह चुनाव उत्तर प्रदेश चुनाव से भी अहम होने वाला है।

पिछले महीनों में जिस तरह वहां पटेल आंदोलन ने रंग लिया और फिर स्थानीय चुनाव में भाजपा की शिकस्त हुई, उससे नेतृत्व पहले से आशंकित था। मुख्यमंत्री के बदलाव की मंशा तो पहले से थी लेकिन पिछले दिनों पटेल की पुत्री के खिलाफ कुछ मामलों ने इसे और तेज कर दिया। हाल में ऊना में गाय की खाल को लेकर दलितों की पिटाई को मुद्दा बनाकर विपक्ष जिस तरह गोलबंद हो रहा है, उससे भी पार्टी नेतृत्व चिंतित है।

 

आनंदीबेन पटेल ने गुजरात की मुख्यमंत्री के पद से दिया इस्तीफा: सूत्र

| उत्तर प्रदेश | 0 Comments
About The Author
-