isis_landscape_1457615607

इस्लाम के नाम पर बर्बर घटनाओं को अंजाम देने वाले आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट (आईएस) के निशाने पर अब मुस्लिम धर्मगुरु भी आ गए हैं। उसने अपनी विचारधारा से असहमति जताने वाले मुस्लिम धर्मगुरुओं के नामों की एक सूची जारी की है। इन्हें “काफिर का इमाम” बताते हुए आतंकी संगठन ने समर्थकों को उनकी हत्या करने का फरमान सुनाया है।

अपनी पत्रिका दाबिक के ताजा अंक में आईएस ने धर्मगुरुओं को निशाना बनाते हुए सूची जारी की है। इसमें कहा गया है कि काफिर के इमामों को मौत के घाट उतारा जाना चाहिए। “पश्चिम में काफिर के इमामों की हत्या” शीर्षक वाले लेख में कहा है गया है कि पश्चिम में रहने वाले मुसलमान कैसे दावा कर सकते हैं कि उन्होंने खुद को अल्लाह के प्रति समर्पित कर दिया है।

गौरतलब है कि पिछले साल सितंबर में करीब एक हजार भारतीय मुस्लिम धर्मगुरुओं ने आतंकी संगठन के खिलाफ फतवा जारी करते हुए उसे गैर इस्लामिक बताया था। यह साफ नहीं है कि इस सूची में भारतीय धर्मगुरुओं का भी नाम है या नहीं। दाबिक के इस अंक में ब्रसेल्स हमलों के पीछे मौजूद लोगों के बारे में भी जानकारी दी गई है। तस्वीरों के साथ इनलोगों की आतंकी संगठन ने सराहना की है।

आईएस ने मुस्लिम धर्मगुरुओं की हत्या का दिया फरमान

| देश विदेश | 0 Comments
About The Author
-