हैदराबाद। आंध्र प्रदेश विधानसभा के स्पीकर ने महिलाओं पर दिया विवादित बयान  जिस पर बवाल होना तय है।

दरअअसल प्रदेश की विधानसभा के स्पीकर शिव प्रसाद ने एक प्रेस मीट के दौरान इस मुद्दे पर बोलते हुए कहा कि अगर महिलाओं को घर में कार की तरह पार्क करके रखा जाए तो उनके साथ रेप जैसी घटनाएं नहीं होंगी। महिलाओं को जब सोसायटी में एक्सपोजर मिलता है तो उनके साथ इस तरह की घटनाएं होती हैं।

तेलगुदेशम पार्टी के विधायक शिव प्रसाद ने महिला सशक्तिकरण को लेकर दिए अपने संबोधन में कहा कि जैसे आप कार खरीदते हैं और उसे गैराज में पार्क कर देते हैं तो उसके एक्सिडेंट की आशंका कम होती है लेकिन जब आप उसे सड़क पर लेकर आते हैं तो एक्सिडेंट होता है। इसी तरह पुराने समय में जब महिलाएं घर में रहती थीं तो दुष्कर्म जैसी घटनाएं कम होती थीं, वो हर तरह के अत्याचारों से बची हुईं थी, भेदभाव को छोड़कर। लेकिन जब वो समाज में ज्यादा एक्सपोजर में आईं तो वो रेप, छेड़छाड़ और यौन शोषण जैसी घटनाओं कि शिकार होने लगी, ऐसा नहीं है क्या? अगर वो घर से बाहर नहीं निकलती हैं तो वो बची रहेंगी।

हालांकि उन्होंने बाद में कहा कि मेरा कहने का मतलब यह नहीं है कि महिलाओं को घर में कैद करके रखा जाना चाहिए बल्कि उन्हें शिक्षा दी जानी चाहिए।

 

आंध्र प्रदेश विधानसभा के स्पीकर ने महिलाओं पर दिया विवादित बयान

| उत्तर प्रदेश | 0 Comments
About The Author
-