बैंकों में पहुंचे काले धन का पता लगाने के लिए आयकर विभाग ‘ऑपरेशन क्लीन मनी’ का दूसरा चरण अगले महीने लांच कर सकता है। विभाग अगले 10 दिनों में दो डाटा एनालिटिक्स कंपनियों को नियुक्त करेगा, जो आठ नवंबर के पहले और बाद बैंक खातों में हुई जमाओं का विश्लेषण करेंगी। सरकार ने आठ नवंबर को 500 रुपये और 1,000 रुपये के पुराने नोटों को चलन से हटाने की घोषणा की थी। अधिकारियों ने कहा कि अगले चरण में एक से अधिक खाते और पैन नंबर वाले ऐसे लोगों का पता लगाया जाएगा, जिन्होंने बड़ी रकम जमा की है। विभाग ने ऐसे खातों का विश्लेषण शुरू कर दिया है, जिनकी जमाओं में कोई पैटर्न दिखता है या जिनमें पता, पैन, टेलीफोन नंबर, ईमेल पता या नाम समान हैं। एक अधिकारी ने कहा कि विभाग फिलहाल स्टैंडअलोन आधार पर पांच लाख रुपये से कम की जमाओं को नजरंदाज करेगा।

नोटबंदी के बाद बैंक खातों में पुराने 500 रुपये और 1,000 रुपये के नोटों में हुई काले धन की जमाओं का पता लगाने के लिए आयकर विभाग ने भीषण अभियान शुरू किया है, जिसे ऑपरेशन क्लीन मनी का नाम दिया गया है।

अगले महीने तैयार रहिए बैंक खातों की जांच के ‘ऑपरेशन क्लीन मनी-2’ के लिए

| उत्तर प्रदेश | 0 Comments
About The Author
-